आपदा की घड़ी में भी परिवार नियोजन पर पूरा जोर

आपदा की घड़ी में भी परिवार नियोजन पर पूरा जोर
मुख्य बातें —

  • 11 जुलाई को मनाया जाएगा विश्व जनसँख्या दिवस
  • पखवाड़े के तहत होगा व्यापक प्रचार-प्रसार और गर्भ निरोधक साधनों का वितरण
    फतेहपुर 09 जुलाई 2020 । कोरोना संक्रमण के समय में सरकार परिवार नियोजन को लेकर पूरी तरह गंभीर है। ऐसे में परिवार नियोजन कार्यक्रमों को गति प्रदान करने के उद्देश्य से हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी जनपद में 11 जुलाई को विश्व जनसँख्या दिवस का आयोजन किया जाएगा।
    भारत सरकार की ओर से इस बार विश्व जनसँख्या दिवस पखवाड़े की थीम ‘आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की जिम्मेदारी’ तय की गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ- उमाकांत पांडेय ने इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों और समस्त प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को पत्र के माध्यम से जरूरी निर्देश दिए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार कोविड महामारी में भी जनसँख्या स्थिरीकरण के लिए समाज को जागरुक करने के साथ साथ परिवार नियोजन कार्यक्रम को गति प्रदान करना अहम है। इसके लिए विभिन्न स्तरों पर व्यापक व सघन प्रचार प्रसार किया जाना है। इसके लिए विश्व जनसँख्या दिवस पखवाड़ा दो चरणों में मनाया जाएगा। पहला चरण 27 जून से 10 जुलाई तक मनाया जा रहा है जिसमें व्यापक व सघन प्रचार-प्रसार के माध्यम से दंपत्ति संपर्क पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है। वही 11 से 31 जुलाई तक “सेवा प्रदायगी जनसँख्या स्थिरता पखवाड़ा” मनाया जायेगा। सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार जिला व ब्लाक स्तर पर समय-समय पर सम्बंधित गतिविधियाँ आयोजित कराई जाएंगी व उनकी रिपोर्ट जिला कार्यक्रम प्रबंधन इकाई को प्रेषित की जाएगी।-
    युवा जोड़ों को परिवार नियोजन के लिए प्रोत्साहित करना जरूरी
    फतेहपुर। जिला कार्यक्रम अधिकारी जया त्रिपाठी ने बताया कि देश के युवा जनसँख्या के एक महत्वपूर्ण हिस्से का गठन करते हैं। 20 से 49 वर्ष तक की 32-3 प्रतिशत महिलाएँ ही किसी भी आधुनिक गर्भनिरोधक विधि का प्रयोग कर रही हैं। इसमें सुधार के लिए जिला अस्पताल एवं स्वास्थ्य केन्द्रों के माध्यम से आधुनिक गर्भनिरोधकों जैसे अंतरा इंजेक्शन, छाया गर्भनिरोधक गोली आदि की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। वहीं कोरोना संक्रमण के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग मानकों के अनुसार वीएचएनडी के माध्यम से और आशा द्वारा घर-घर जाकर गर्भनिरोधक साधनों का वितरण किया जा रहा है। साथ ही युवा विवाहित जोड़ों को परिवार नियोजन साधन अपनाने के लिए प्रोत्साहित भी किया जा रहा है।

11 जुलाई को शुरू होगा विश्व जनसंख्या दिवस पखवारा

विश्व जनसंख्या दिवस (11 जुलाई) इस साल भी दो चरणों में मनाया जाएगा। परिवार कल्याण परामर्शदाता प्रताप सिंह ने बताया कि 27 जून से ही आशा और एएनएम की 330 टीमों ने जनपद भर में दंपतियों से संपर्क कर उन्हें परिवार नियोजन के अस्थाई और स्थाई साधनों के बारे में जानकारी देना शुरू कर दिया था और उनका नाम भी रजिस्टर्ड कर रही हैं। यह अभियान 10 जुलाई तक चलेगा। इसके बाद 11 से लेकर 31 जुलाई तक इन्हीं रजिस्टर्ड दंपतियों को परिवार नियोजन से जुड़े साधन मुहैया कराएं जाएंगे। इस बार पुरुषों को ज्यादा से ज्यादा नसबंदी के प्रति जागरूक करने की कोशिश की जाएगी। एएनएम को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। आशा बहुएं महिलाओं के बीच जाकर उन्हें नसबंदी के प्रति जागरूक करेंगी। अस्थाई साधनों में कंडोम, माला-एन, छाया टेबलेट का वितरण होगा। अंतरा इंजेक्शन और कॉपर टी के बारे में जानकारी दी जाएगी।

एक सप्ताह से अधिक समय बीतनें के बावजूद पुलिस चोरी के खुलासे में नाकाम ?

एक सप्ताह से अधिक समय बीतनें के बावजूद पुलिस चोरी के खुलासे में नाकाम ?

151 के सहारे चल रहे थानें बडे पैमानें में दर्ज हुए कुछ समय में मुकदमें से खडे हुए सवाल!

फतेहपुर जनपद में पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा द्वारा अपराध नियंत्रण रोकथाम हेतु लगातार एक के बाद एक कड़े निर्देश,आदेश देने के बावजूद जनपद में लगातार हो रही चोरियां रुकने का नाम नहीं ले रही लगातार अज्ञात चोर पुलिस को चुनौती पेश कर रहे हैं। जहां अकेले कल्यानपुर थाना क्षेत्र में ही एक के बाद एक लगातार आधा दर्जन से अधिक चोरियों को अंजाम देकर चोरों नें पुलिस के लिए मुश्किलें बढ़ा दी थी। जहां जांच के दौरान 72 घंटे बीतने के बावजूद भी खुलासे के नाम पर कल्यानपुर पुलिस का वही पुराना रटा रटाया जवाब जांच की जा रही है। दर्जनों की संख्या में थाना व चौकी के साथ पीआरवी के जवानों की तैनाती के बावजूद बेधड़क चोर चोरी के वारदात को अंजाम दे रहे हैं। जो व्यापारियों के लिए सबसे बड़ी समस्या बन कर आई जहां व्यापारियों ने आक्रोश प्रकट करते हुए चोरी की घटनाओं पर लगाम लगाने व खुलासे की मांग कर रहे हैं। इन घटनाओं से रात्रि गश्त की पोल खुल कर लोगों के सामने आ रही है। विश्वसनीय सूत्रों की माने तो चौकी क्षेत्र से चोर को दौडने पर अपेक्षाकृत सहयोग न मिलने के कारण अज्ञात चोर पूर्व में भागने में सफल रहे। बताते चलें कि बीते कुछ समय से 151,107,16 के सहारे ही थाना चलाया जा रहा हैं। जिससे अपनें को बेदाग साबित करनें के प्रयास तो वहीं दूसरी ओर दर्जनों की संख्या में मुकदमा दर्ज किए जा रहे हैं। जिससे अपराध नियंत्रण का दावा कल्यानपुर पुलिस का खोखला साबित हो रहा है। जिसकी सबसे बडी वजह हाल ही में हुई कुछ प्रमुख घटनाएं चाहे दलाबला खेडा गाँव में दो पक्षों के बीच मारपीट होनें के बाद बलवा जैसी धाराओं में मुकदमा दर्ज होना। जो किसी भी सूरत से समाज हित में नहीं है। वहीं दूसरी ओर भाऊपुर गाँव में पहुचे विकास के साथी बब्बन की जानकारी से अन्जान कल्यानपुर पुलिस के नाक के नींचे से भाग निकला बिकरु हत्याकांड का आरोपी जहाँ स्थानीय पुलिस को किरकिरी के साथ शर्मशार होना पडा था!

प्रमुख सचिव, पशुपालन एवं दुग्ध विकास, उ0प्र0 शासन, श्री भुवनेश कुमार, विशेष सचिव पशुपालन एवं दुग्ध विकास, उ0प्र0 शासन,द्वारा किया वृक्षारोपण

फतेहपुर मे वृक्षारोपण महोत्सव-2020 के अंतर्गत फतेहपुर में प्रमुख सचिव, पशुपालन एवं दुग्ध विकास, उ0प्र0 शासन, श्री भुवनेश कुमार, विशेष सचिव पशुपालन एवं दुग्ध विकास, उ0प्र0 शासन, श्री नरेन्द्र प्रसाद पाण्डेय, जिलाधिकारी श्री संजीव सिंह, मुख्य विकास अधिकारी श्री सत्य प्रकाश, उपजिलाधिकारी सदर श्री प्रमोद झा ने विकास खंड तेलियानी के ग्राम पंचायत हसनापुर सानी के चिल्ड्रेन पार्क, ग्राम सलेमाबाद में पशुचर जमीन(1.4690 हेक्टेयर) को अवैध कब्जे से मुक्त जमीन में एवं सलेमाबाद गौशाला में वृहद वृक्षारोपण किया । जिसमें प्रमुख सचिव द्वारा पीपल, पाखर, नीम, विशेष सचिव ने कनकचम्पा, पीपल, पाखर, जिलाधिकारी ने कनकचम्पा, पाखर, नीम, मुख्य विकास अधिकारी ने पाखर, पीपल, नीम एवं उपजिलाधिकारी सदर, पीडी द्वारा पीपल, पाखर, गुलमोहर, कनकचम्पा आदि के पौधे उक्त सभी स्थानों पर रोपित किये गए । प्रमुख सचिव ने चिल्ड्रेन पार्क में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से उनके कार्यो की जानकारी ली,  के द्वारा बताया गया कि मास्क, ड्रेस सिलाई आदि के कार्य किया जा रहा है ।
       सलेमाबाद गौशाला में गंदगी पाए जाने व टीकाकरण, गौवंशो की टैगिंग, गौवंशो की संख्या आदि की जानकारी न देने पर प्रमुख सचिव ने कड़ी फटकार लगते हुए पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ0 दिनेश कटियार को चार्जशीट देने के निर्देश मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को दिए और गौशाला में मनरेगा से खुदवाए गए तालाब की मिट्टी को तालाब से बाहर फेके जाने पर सेक्रेटरी पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की । तथा कहा कि गौशाला में जिन स्थानों पर जमीन का लेवल नीचे है और पानी इकठ्ठा हो जाता है वहाँ पर मनरेगा से मिट्टी भरवाई जाय ताकि पानी न रुक सके । मेरे द्वारा गौशालाओ का पुनः निरीक्षण किया जायेगा यदि सुधार नही हुआ तो सम्बंधित जिम्मेदार के खिलाफ निलंबन की कार्यवाही की जाएगी। गौवंशो हेतु भूषा व चूनी, चोकर, दाना आदि को देखा जो पर्याप्त मात्रा में पाया गया । 
     प्रभारी समाजकीय वानिकीय वन विभाग ने बताया कि 01 जुलाई 2020 से 07 जुलाई 2020 तक वृक्षारोपण महोत्सव मनाया जा रहा है जिसमें जनपद को 3495520 लक्ष्य के सापेक्ष 3531242 पौधों में शीशम, सागौन, अमरूद, नींबू, कांजी, पाखर, इमली , अर्जुन, चिलबिल, नीम, पीपल, कनकचम्पा के वृक्ष विभिनन विभागों, ग्राम प्रधानों, स्वयं सहायता समूहों, किसानों आदि के द्वारा वृक्ष रोपित किये जाएँगे । 
      इसके उपरांत समस्त पशुचिकित्सा अधिकारियों के साथ विकास भवन सभागार में बैठक की । विकास खंड मलवां ग्राम पंचायत भादवा में तैनात पशुचिकित्सा अधिकारी श्रीमती आरती सचान  बैठक में अनुपस्थित रहने पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि अनुपस्थिति का स्पस्टीकरण जिलाधिकारी को देंगी, के निर्देश के बाद वेतन आहरित किया जाए । उन्होंने पशुचिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि शासन की योजनाओं में प्राप्त लक्ष्यों के सापेक्ष टीकाकरण, टैगिंग, गौशालाओ हेतु ग्राम पंचायतों में जमीन का चिन्हीकरण आदि का कार्य ससमय सम्पन्न किये जायें । उन्होंने कहा कि संचारी रोग नियंत्रण अभियान चल रहा है , सुवर पालकों को सलाह दे कि आबादी से दूर सुकरबाड़ा बनाये जिससे बीमारी आदि न हो और जो गौवंश बाहर घूम रहे है उन्हें नगर पालिका/नगर पंचायत/ग्राम प्रधान के सहयोग से पकड़कर गौशालाओ में भेजे जाए । प्रत्येक न्याय पंचायत में गौशाला हेतु जमीन चिन्हित करते हुए गौशाला का निर्माण किया जाए ताकि गौवंशो को रखा जा सके । कार्ययोजना के अनुसार कार्य करें और डायरी बनाकर तिथिवार अपने कार्यो को अंकित करते हुए प्रतिदिन की रिपोर्ट मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी के पास भेजी जाए। उन्होंने कहा कि शासनादेश के अनुसार एक सप्ताह में मनरेगा से नवीन गौशालाओ में तार खींचना, खाई खोदना, नेडा गड्ढे, अस्थाई शेड बनाना, वर्मी कम्पोस्ट खाद गड्ढे, नेपियर घास, वृक्षारोपण आदि का कार्य प्लान बनाकर करना सुनिश्चित करें । उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि पशु चिकित्सा अधिकारियों के कार्यो की बुकलेट बनाई जाए के अनुसार अगली समीक्षा बैठक की जाएगी । ब्लॉक् तथा तहसील स्तर पर बैठक सम्पन्न कराये ।
  इस अवसर पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी आर0के0 शर्मा, डीसी मनरेगा पुतान सिंह, खंड विकास अधिकारी, ब्लॉक् प्रमुख, ग्राम प्रधान सहित पशु चिकित्सा अधिकारी उपस्थित रहे ।

बालू लदे ट्रक और ट्रैक्टर के आवागमन से पूरामुफ्ती से मनौरी चायल सड़क तालाब में तबदील,——–

बालू लदे ट्रक और ट्रैक्टर के आवागमन से पूरामुफ्ती से मनौरी चायल सड़क तालाब में तबदील,————

कौशाम्बी के पूरामुफ्ती मे कई दिनों से देखा जा रहा है कि पूरामुफ्ती से मनौरी ,चायल सड़क पर कई बड़े आलाधिकारियों का भी इसी सड़क से आना जाना लगा है लेकिन अभी तक इस जान लेवा सड़क पर किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नजर नही आ रहा है सड़क पर रोज आये दिन हादसे होते है आवागमन के चक्कर में किसी कि साइकिल तो किसी की बाइक गड्ढे में गिरी नजर आती है जिसको उठाने के बजाय लोग उसे देख हँसी करते है , मगर हँसी क्यो न करे क्यो कि वो गिरने वाला कोई और नही एक मजदूर होता है !
!! इसी पर मैं अपने पत्रकार बंधुओ से भी कुछ कहना चाहूंगा !!
मेरे कुछ पत्रकार बंधु जो स्थानीय है वो भी इस सड़क से गुजरते है उनके भी अपने इस सड़क से गुजरते है लेकिन शायद वो इससे भी बड़ी खबर की तलाश में होते है क्यों कि इन छोटी 2 खबरों के लिए उनके अखबार और पोर्टल ,चैनल में जगह नही होती जिससे उन अधिकारियों के आँख का पर्दा उठ सके, केवल भाई लोगो को वाहवाही की खबर अगर मिल जाय तो पूरा दिन वाट्सअप पर एक नही सैकड़ो बार तोड़ मरोड़ कर खबर पढ़ने को खोलनें पर मिलेगा, वाह रे पत्रकारिता, आखिर कब तक सच्चाई छुपेगी ,मित्रो अभी भी समय है इस पत्रकारिता को पवित्र ही रखा जाय न कि किसी की गुलामी ।

उद्योग व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश के संस्थापक अध्यक्ष किशन मेहरोत्रा ने संगठन की ट्रेड इकाई का किया विस्तार

उद्योग व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश के संस्थापक अध्यक्ष किशन मेहरोत्रा ने संगठन की ट्रेड इकाई का विस्तार करते ,,इलेक्ट्रिक इलेक्ट्रॉनिक संगठन ,, का गठन किया, संरक्षक मण्डल में श्री हरिश्चन्द्र शुक्ला, श्री शमीम अहमद, जिलाध्यक्ष मोo अंजुम जिलामहामंत्री पंकज दीछित नगर अध्यक्ष वकील अहमद नगर महामंत्री ऋषि रस्तोगी, कोषाध्यक्ष नवीन रस्तोगी, प्रवक्ता प्रवीण कुमार, मीडिया प्रभारी कैलाश गुप्ता, उपाध्यक्ष सुधीर कुमार, फैय्याज अहमद, संजय अग्रहरि, मंत्री इसरार अहमद, अनीश अहमद, रिजवान अहमद, संगठनमंत्री, महबूब खान, दिनेश सिंह, सन्तोष कुमार शुक्ला, इस्माइल अहमद, सन्तोष कुमार को पुष्पहार पहनाकर पद , दात्विय निष्ठा की शपथ ग्रहण कराते मनोनीत किया, संस्थापक अध्यक्ष किशन मेहरोत्रा ने कहा व्यापारी हितो व उनके सम्मान की रक्षा हेतु संगठन सदैव अग्रणी भूमिका में कार्यरत है जो सदैव रहेगा, नवनियुक्त जिलाध्यक्ष मोo अंजुम ने कहा जनपद फतेहपुर के समस्त इलेक्ट्रिक इलेक्ट्रॉनिक व्यापारी बन्धुओ के सहयोग से समस्त तहसीलो कस्बो ग्रामो में संगठन की इकाई का गठन किया जाएगा, व सभी को एकसूत्र में पिरोते संगठन को विशाल बनाया जाएगा,नवनियुक्त नगर अध्यक्ष वकील अहमद ने कहा नगर छेत्र में सदस्यताअभियान चलाकर समस्त ट्रेड व्यापारियों को संगठन से जोड़ा जाएगा, व सभी की समस्या, शिकायते, सुझावो का एकत्रीकरण करते निवारण की दिशा में संगठन कार्यरत रहेगा, बैठक व मनोनयन कार्यक्रम में महामंत्री अनिल वर्मा, सह महामंत्री चन्द्र प्रकाश बब्लू गुप्ता, नगर अध्यक्ष मनोज साहू युवा अध्यक्ष सेराज अहमद खान उपाध्यक्ष अशोक गुप्ता, टीटू गुप्ता अर्पित पाल सहित ट्रेड से जुड़े सुरेश पाल संजय गुप्ता कैलाश प्रवीण फैय्याज रिषी नवीन इसरार अनीस सुशील अरविन्द सुधीर दिनेश सहित अनेक व्यापारियों ने समस्त नवनियुक्त पदाधिकारियो को गगनभेदी उदघोष करते बधाई व शुभकामनाये दी, ट्रेड के संरक्षक श्री हरिश्चन्द्र शुक्ला , व शमीम अहमद जी को समस्त नवनियुक्त पदाधिकारियो ने पुष्पहार पहनाकर सम्मानित किया, व उनके प्रेरणा व मार्गदर्शन में चलने का संकल्प लिया,,।।

अमावस्या पर शिवराज गंगा घाट मे गंगा आरती का आयोजन किया गया।

अमावस्या पर हुयी गंगा आरती, घाट की गयी सफाई।फतेहपुर। गंगा बचाओ सेवा समिति के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र शरन सिम्पल द्वारा अमावस्या पर शिवराज गंगा घाट मे गंगा आरती का आयोजन किया गया। जिसमे सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए गंगा आरती की गयी आरती । गंगा बचाओ सेवा समिति के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र शरन सिम्पल द्वारा आयोजित गंगा आरती में शामिल होने पहुंचे भक्तगणों ने पहले घाट की साफ-सफाई कर स्वच्छता का दिया संदेश। स्वामी परमानन्द जी के शिष्य नागेंद्र शुक्ला ने कहा कि मां गंगे को अविरल और निर्मल रखने के लिए उसको स्वच्छ रखना अति आवश्यक है। सभी लोगों का दायित्व है कि अपनी सहभागिता निभायें। समिति के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र शरन सिम्पल ने स्वच्छता के प्रति प्रेरित करते हुये कहा कि आवश्यकता इस बात की है कि गंगा में किसी प्रकार की सामाग्री को न डाले। इस मौके स्वामी परमानन्द जी के शिष्य नागेंद्र शुक्ला , समिति के विनोद गुप्ता ,अरूण जायसवाल,सुरेन्द्र पाठक, पारागी लाल गुप्ता सहित मन्दिर के पूजारी शिव कुमार तिवारी आदि मौजूद रहे।

प्रेमनगर व्यापार मण्डल की नवनियुक्त इकाई का मनोनयन किया जाता है

उद्योग व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश कार्यालय, नीलकंठ पैलेस पटेलनगर फतेहपुर, संस्थापक अध्यक्ष, किशन मेहरोत्रा मोo 7007112011, बड्सप 9336668555 ,, पत्रांक, 20620, प्रेमनगर व्यापार मण्डल का गठन मनोनयन प्रमाण पत्र, प्रमाणित किया जाता है उद्योग व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश के संस्थापक अध्यक्ष किशन मेहरोत्रा द्वारा प्रेमनगर व्यापार मण्डल के गठन उपरान्त राष्ट्रहित, समाजहित, जनहित, व्यापारहित हेतु प्रेमनगर व्यापार मण्डल की उपरोक्त नवनियुक्त इकाई का मनोनयन किया जाता है,। संरक्षक मण्डल, कैलाश त्रिवेदी, मुख्तार हुसैन, इश्तियाक अहमद, कल्लू यादव, सरफराज अहमद, इस्तेखार अहमद, शाहिद शेख, मसेउद्दीन, इन्तेसार अहमद, सुहेल अहमद, अम्बोल यादव,, अध्यक्ष,, मशीर अहमद,, महामंत्री सुनील गौतम, सह महामंत्री, करणसिंह पटेल, कोषाध्यक्ष, सरोज विश्वकर्मा, प्रवक्ता इम्तेयाज अहमद, मीडिया प्रभारी जाकिर सिद्दीकी,, उपाध्यक्ष, विपिन कुमार, मनोज कुमार, सुधीर यादव, अशोक साहू, जावेद शेख, इशरत हसन, रोहित त्रिवेदी, स्वामी यादव, इफ्तेखार अहमद,, मंत्री,, सत्यम कुमार सोनी, ( पिन्टू सोनी) जयपाल मौर्य, राजेश मौर्य, असलम हुसैन, ज्ञान सिंह, अभिषेक कुमार, सईदुल हसन, तौकीर अहमद, इरशाद अहमद , सह मंत्री,, सन्तोष सिंह, मोo यासिर, धर्मेन्द्र साहू,, संगठनमंत्री, पवन मोदनवाल, विजयपाल ,, कार्यकरणी सदस्य,, पिन्टू सोनी, मोo रेहान मोo शोएब, मोo नसीम, मोo जुबैर, पंकज कुमार, सरफराज मोनू, अशोक कुमार सोनी, रवि सोनी टिंकू सोनी, इमरान हुसैन, अख्तर अली, पंकज कुमार, सन्दीप गौतम, राजू विश्वकर्मा, मगरू विश्वकर्मा, मोo आसिफ, महेन्द्र कुमार,,। उद्योग व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश समस्त नवनियुक्त पदाधिकारियो के मनोनयन उपरान्त पुष्पहार द्वारा सम्मानित करते पद, कर्तव्य, निष्ठा की शपथ ग्रहण कराते शुभकामनाये पूर्वक उज्ज्वल भविष्य की कामना करता है, किशन मेहरोत्रा, संस्थापक अध्यक्ष राजेश वर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष, अनिल वर्मा महामंत्री, प्रेमदत्त उमराव कोषाध्यक्ष वकील अहमद संगठनमंत्री उद्योग व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश

फतेहपुर की घटना के बाद भी प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया क्यों ख़ामोश है ? ज़िला प्रशासन और पत्रकारों के बीच यूपी के कई जिलों में क्या सब ठीक नहीं है ?

यूपी के पत्रकारों पर दर्ज़ होते मुकदमों के पीछे की क्या है कहानी ? क्यों दर्ज़ हो रहे है मुकदमें देखिए इस रिपोर्ट में

पत्रकारों पर तेज़ी से #मुक़दमा दर्ज किया जा रहा है ! फतेहपुर की घटना के बाद पत्रकार लॉबी क्यों #ख़ामोश है ? ज़िला #संवाददाता रिपोर्ट बनाए या ज़िला प्रशासन के मुकदमें के आगे घुटने टेक दें ? देखिए हमारी खास #पड़ताल

निराले दीवान के यूनिफार्म पहनने का अंदाज निराला

निराले दीवान के यूनिफार्म पहनने का अंदाज निराला

दीवान पर बालीवुड फिल्मो का असर यूनीफार्म पहने का नया तरीका खोजा यूपी डीजीपी का जिओ नहीं होता दीवान पर लागू

यूं तो आपने उत्तर प्रदेश पुलिस के अनुशासन व अनुशासित होनें के कई किस्से सुने होंगे लेकिन निराले दीवान के यूनिफार्म पहनने का निराला अंदाज इन दिनों जमकर सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। जहां थाने में दीवान पुलिस नियमावली वह पहनने के तरीके से बिल्कुल अलग विपरीत यूनिफॉर्म पहने दिख रहा जिससे साफ तौर पर अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस कदर नियम कानून का पालन करने का दंभ भरने वाली खाकी के दीवान विभागीय कानून का पालन करते हैं। दीवान की फोटो देख तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है नुक्कड़ में खड़े आम ग्रामीण बताते हैं कि दीवान बेखौफ है वह नियम कानूनों से ऊपर अपने आप को मानता है इसलिए विभागीय अनुशासन को ठेंगा दिखा रहा है। इस अंदाज में तो फिल्मी हीरो असर दिखाई पड़ते हैं। शायद उत्तर प्रदेश पुलिस के इस दीवान पर बॉलीवुड की फिल्मों का असर ही है जो दीवान को मनमानी करने के लिए प्रेरित करती है। ऐसे में दीवान पर जवाब देह जिम्मेदार अनुशासन का दंभ भरने वाली उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से कड़ी कार्रवाई करेंगे या फिर मामले को रफा दफा करने का हर संभव प्रयास होगा खैर या तो विभागीय जांच का मामला है लेकिन ऐसे मामलों पर कड़ी कार्यवाही कर उत्तर प्रदेश पुलिस को चेतावनी के तौर पर मिसाल पेश करनी चाहिए। जिससे ऐसी पुनरावृत्ति ना हो जो प्रदेश प्रशासन की गाइडलाइन के मानक हैं उन्हीं का पालन करें पुलिसकर्मी यदि इसी तरह होता रहा तो यूनिफॉर्म पहनने के तौर-तरीकों का मजाक बनकर रह जाएगा। जिससे इनकार नहीं किया जा सकता।