सावधानी कोविड टीकाकरण पंजीकरण के लिये नहीं की जा रही काल- सीएमओ

सावधानी कोविड टीकाकरण पंजीकरण के लिये नहीं की जा रही काल- सीएमओ
– अभी सिर्फ सरकारी और निजी क्षेत्रों के स्वास्थ्य कर्मियों को किया गया सूचीबद्ध
फतेहपुर। कोरोना संक्रमण को लगभग एक साल होने को है। ऐसे में सभी को बेसब्री से वैक्सीन का इंतजार है। इस मौके को भुनाने के लिये साइबर ठगों ने भी जाल बिछा रखा हैं। कोविड टीकाकरण के नाम पर ठगी का खेल शुरू हो गया है। वैक्सीन के लिये रजिस्ट्रेशन करवाने के नाम पर लोग आसानी से झांसे में आ सकते है। इससे विशेष सावधान रहने की जरूरत है। सीएमओ ने बताया कि रजिस्ट्रेशन के नाम पर किसी को पैसे न दे न ही इनके खाते में डालें। स्वास्थ्य विभाग से रजिस्ट्रेशन के लिये काल नहीं की जा रही है।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 गोपाल कुमार माहेश्वरी ने बताया कि कोरोना टीकाकरण के लिये स्वास्थ्य विभाग की ओर से काल नहीं की जा रही है। न ही आम आदमी का पंजीकरण किया जा रहा हे। अभी सिर्फ सरकारी और निजी क्षेत्र में काम कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों का पंजीकरण किया गया है। जिन्हे वैक्सीन दी जानी है उनकी सूची विभाग के पास है। ऐसे मे वैक्सीन वाली काल से सावधान रहने की जरूरत है। नहीं तो साइबर क्राइम का शिकार हो सकते है।
सीएमओ ने बताया कि हालांकि जिले में अभी तक ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया है। सावधानी बरतने की जरूरत है। जालसाज आधार कार्ड का विवरण लेने के बाद उसकी पुष्टि के लिये वन टाइम पासवर्ड ओटीपी की मांग करते हैं। ओटीपी बताने पर आधार नंबर से जुडें बैंक खाते से रकम उडा दी जाती है। पंजीकरण के लिये फोन आने पर कोई जानकारी न दें। किसी भी जानकारी के लिये नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से संपर्क करें।

इनसेट —
ठगों से बचने के लिये इन पर दें ध्यान
– कोविड 19 वैक्सीनेशन के लिये फोन पर रजिस्ट्रेशन करवाने की कोई योजना नहीं है। न ही किसी भी प्रकार का आनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है।
– किसी भी अनजान व्यक्ति से निजी और गोपनीय जानकारी जैसे बैंक अकाउंट, एटीएम कार्ड गोपनीय नंबर, आधार कार्ड और पैन कार्ड सबंधी जानकारी साझा न करें।
– मोबाइल पर आये किसी भी तरह के ओटीपी को किसी से शेयर न करें।
– कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराने का वादा करने वाले किसी भी अनजान ऐप लिंक या ऐसा दावा करने वाले किसी भी डिजिटल प्लेटफार्म के झांसे मे न आयें। कोई भी अनजान ऐप डाउनलोड न करें।